10 के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज
   Date13-Sep-2020

aw2_1  H x W: 0
महू में 50 करोड़ के अनाज घोटाले का पर्दाफाश
इंदौर द्य 12 सितम्बर
मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा अनाज माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने दिए गए निर्देश पर जिला प्रशासन ने महू में करीब 50 करोड़ रुपए के अनाज घोटाले का पर्दाफ़ाश किया है।
कलेक्टर श्री मनीष सिंह ने आज बताया कि इस संबंध में एफ़आईआर दर्ज की गई है और विस्तृत जांच की जा रही है। इस अनाज घोटाले के तार बालाघाट, मंडला और नीमच से भी जुड़े पाए गए हैं। प्राथमिक जांच में व्यापारी मोहनलाल अग्रवाल और उसके सहयोगियों के नाम आए हैं। इसमें नागरिक आपूर्ति निगम के एक कर्मचारी की संलिप्तता भी पाई गई है। इंदौर जिले के अनुभाग महू में शासन द्वारा गरीबों के उपयोग के लिए आवंटित राशन के वितरण में समय-समय पर शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। 17 अगस्त,20 को एक शिकायत के संबंध में मौके पर जांच में पाया गया कि नागरिक आपूर्ति निगम के परिवहनक मोहनलाल अग्रवाल के पुत्र मोहित अग्रवाल के हर्षिल ट्रेडर्स स्थित गोदाम जो कि मण्डी प्रांगण में शासकीय वेयर हाउस से लगा है में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के चावल के 600 से अधिक कट्टे पाए गए। इन कट्टों के एवज में मोहनलाल अग्रवाल द्वारा जो बिल प्रस्तुत किए गए है जो कूटरचित पाए गए। कलेक्टर ने इस मामले में जांच दल गठित कर जांच करवाई, जिसमें प्रथम दृष्टया यह तथ्य सामने आया कि नागरिक आपूर्ति निगम के परिवहनक मोहनलाल अग्रवाल द्वारा अपने सहयोगी व्यापारियों आयुष अग्रवाल, लोकेश अग्रवाल एवं शासकीय उचित मूल्य की दुकान