गरीबों के हित में 6 साल में जो कार्य हुए, वे पहले नहीं हुए
   Date10-Sep-2020

az1_1  H x W: 0
भोपाल 9 सितंबर (वा)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों और वंचितों के हित में कार्य करने की प्रतिबद्धता दोहराते हुए आज कहा कि देश में पिछले 6 सालों के दौरान गरीबों के हित में जितने व्यवस्थित ढंग से कार्य हुए हैं, वे पहले कभी नहीं हुए।
श्री मोदी ने सड़क किनारे ठेला लगाकर या फुटपाथ पर बैठकर कार्य करने वालों (स्ट्रीट वेंडर्स) के लिए प्रारंभ की गई प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत मध्यप्रदेश के एक लाख से अधिक हितग्राहियों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये संबोधित किया। श्री मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार की सभी योजनाएं इस तरह से एक दूसरे को संबद्ध कर बनाई गई हैं, जिससे गरीबों, पीडि़तों, शोषितों, वंचितों, दलितों और आदिवासियों का व्यापक हित हो सके। इस दिशा में पिछले छह सालों में जिस तरह से व्यवस्थित ढंग से कार्य हुआ, वो पहले कभी नहीं हुआ। कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये केंद्रीय शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, राज्य के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह, अन्य मंत्री, जनप्रतिनिधि और अधिकारी भी जुड़े।
श्री मोदी ने इंदौर जिले के सांवेर निवासी झाडू बनाकर बेचने वाले दंपति, ग्वालियर में चाट बेचने वाली महिला और उसके परिजनों तथा रायसेन जिले के सांची निवासी आर्गेनिक सब्जी बेचने वाले व्यक्ति से संवाद भी किया।
श्री मोदी ने कहा कि दुनिया में जब भी महामारी या कोई अन्य संकट आता है, उससे गरीब ही सबसे अधिक प्रभावित होते हैं। देश में कोरोना संकट के दौरान भी यही हुआ। इसलिए केंद्र सरकार ने गरीबों के हित में कोरोना संकट की शुरुआत से कदम उठाए। केंद्र सरकार ने पिछले छह सालों के दौरान गरीबों के हित में जो योजनाएं बनाईं, वे सब एक-दूसरे से संबद्ध हैं और इन सभी का कोरोना संकट के दौरान भी प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसके अलावा इन्हीं योजनाओं से संबद्ध अन्य योजनाएं भी शुरू की जा रही हैं।
-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की टीम को बधाई दी। कहा उनके प्रयासों से सिर्फ 2 महीने में मध्यप्रदेश में 1 लाख से ज्यादा स्ट्रीट वेंडर्स- रेहड़ी-पटरी वालों को स्वनिधि योजना का लाभ मिला।
श्री मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के हितग्राहियों के बारे में नई योजना पर कार्य किया जा रहा है और अब देखा जाएगा कि उज्जवला, आयुष्मान और अन्य केंद्रीय योजनाओं का लाभ इन हितग्राहियों को मिल रहा है अथवा नहीं। यदि इन्हें अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है तो उन्हें इन योजनाओं का लाभ दिलाना भी सुनिश्चित कराया जाएगा।
ग्वालियर की अर्चना शर्मा ने बताया...
अर्चना शर्मा ग्वालियर में टिक्की सेंटर चलाती हैं। उनके पति बीमार हैं। परिवार की जिम्मेदारी अर्चना खुद उठाती हैं। अर्चना ने बताया कि पति के बीमार होने के बाद सब्जी का ठेला लगाया। अब लोन मिलने पर टिक्की का ठेला लगाने लगे हैं। इसके साथ घर संभालते हैं और टिक्की सेंटर भी चलाते हैं।
भोपाल से भी स्ट्रीट वेंडर जुड़े
राजधानी भोपाल के भी हितग्राही ऑनलाइन कार्यक्रम से जुड़े। यहां गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के लोग पीएम का ऑनलाइन संबोधन सुन रहे हैं। आईएसबीटी में संभागायुक्त और विधायक कृष्णा गौर की मौजूदगी में ऑनलाइन चर्चा हो रही है।