मोदी करेंगे अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि परिसर में पौधारोपण
   Date01-Aug-2020

rt1_1  H x W: 0
अयोध्या द्यश्रीराम जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर का भूमिपूजन करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच अगस्त को परिसर में एक पौधे का रोपण भी करेंगे। प्रभागीय वनाधिकारी मनोज कुमार खरे ने शुक्रवार को यहां बताया कि श्रीराम जन्मभूमि परिसर में विराजमान रामलला के मंदिर निर्माण में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच अगस्त को भूमिपूजन के बाद अस्थायी मंदिर के बगल पारिजात पेड़ का पौधारोपण करेंगे। उन्होंने बताया कि यह पेड़ करीब आठ फीट का होगा। उन्होंने बताया कि भूमिपूजन के बाद मौलश्री के सौ अदद पौधे लगाये जाएंगे। उनके मुताबिक नक्षत्रवार प्रत्येक नक्षत्र का एक पौधा लगाया जाएगा।
परिसर में वाल्मीकि रामायण में वर्णित पौधे अनिवार्य रूप से रोपे जाएंगे।
श्री खरे ने बताया कि वाल्मीकि रामायण के उत्तरकांड के बयालीसवें पंक्ति में इन पौधों का जिक्र किया गया है। देवी सीता को प्रभु राम अशोक वनिका में विहार कराने ले गए थे। इसी प्रसंग में उपवन में पौधों का वर्णन आया है। इसमें चंदन, अमऊ, रक्तचंदन तथा देवदार शोभायमान थे। इसके अलावा चंपा, अशोक, महुआ, कटहल, धूम्ररहित अग्नि के समान प्रकाशित होने वाले पारिजात से वाटिका सुशोभित थी। इसी तरह लोध, कदम्ब, अतिमुक्तक, मदार, कदली तथा गुल्मों व लताओं के समूह व्याप्त थे। उन्होंने बताया कि भगवान श्रीराम के जन्मभूमि परिसर में रामलला का भव्य मंदिर निर्माण होते-होते पूरे परिसर में भरपूर हरियाली पौधारोपण के माध्यम से किया जाएगा। ऐसे पौधों को लगाया जाएगा कि पूरा मंदिर सुशोभित हो व महकता रहे।