मशिमं के 12वीं के परिणाम घोषित : ६८.८१ प्रतिशत परीक्षार्थी सफल
   Date28-Jul-2020

qa1_1  H x W: 0
विज्ञान में मंदसौर की प्रिया-रिंकू, वाणिज्य में नीमच के मुफद्दल और कला वर्ग में रीवा की खुशी प्रदेश में प्रथम
छात्राएं फिर आगे, सरकारी का 71.43 और निजी स्कूलों का 64.93 फीसदी परिणाम
भोपाल द्य 27 जुलाई (वा)
मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने सोमवार दोपहर 3 बजे 12वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया। इसमें कला वर्ग में रीवा जिले की खुशी सिंह 486 नंबर के साथ टॉपर रहीं। उन्होंने 97.2 फीसदी अंक हासिल किए। विज्ञान-गणित वर्ग से मंदसौर की प्रिया और रिंकू के 495-495 अंक आए। कॉमर्स से नीमच के मुफद्दल ने 487 अंक पाकर पहला स्थान बनाया। इस बार 68.81 फीसदी रेगुलर और 28.70 फीसदी प्राइवेट स्टूडेंट पास हुए। पिछले साल मप्र बोर्ड के कक्षा 12वीं का रिजल्ट 72.37 फीसदी रहा था। इस बार 3.56 फीसदी कम यानि 68.81 फीसदी परीक्षार्थी सफल रहे। हालांकि, एक बार फिर लड़कियों ने बाजी मारी है। छात्राएं 73.40 फीसदी पास हुईं, जबकि 64.66 फीसदी छात्र सफल रहे। बोर्ड के पीआरओ एसके चौरसिया ने बताया कि इस बार 8 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल हुए। रिजल्ट ऑनलाइन देखा जा सकता है। तालाबंदी के कारण कोई कार्यक्रम नहीं हुआ। छात्र 4 सरकारी वेबसाइटों के अलावा मोबाइल एप पर भी रिजल्ट देख सकते हैं। एक बार फिर सरकारी स्कूलों का परिणाम बेहतर रहा है। इस बार शासकीय स्कूल में 71.43 फीसदी और प्राइवेट स्कूल में 64.93 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए।
नियमित में कुल 4,54,008 छात्र-छात्राएं उत्तीर्ण - 6,59,729 रेगुलर परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम घोषित किए गए। इनमें से 2,77,750 परीक्षार्थी प्रथम आए। 1,61,544 परीक्षार्थी द्वितीय, 14,704 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी और 10 परीक्षार्थी उत्तीर्ण श्रेणी आए। इस तरह कुल 4,54,008 छात्र-छात्राएं परीक्षा में सफल हुए, जिनका परीक्षाफल 68.81 प्र. रहा है। 97960 रेगुलर परीक्षार्थियों ने पूरक की पात्रता प्राप्त की है। 835 रेगुलर छात्रों के रिजल्ट अंकों की पुष्टि न हो पाने के कारण बाद में घोषित किए जाएंगे।
प्राइवेट में 35429 परीक्षार्थी पास - 1,23,406 प्राइवेट परीक्षार्थियों के परीक्षाफल घोषित कर दिए गए। इनमें से 8004 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी में, 21021 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी में, 6392 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। इस तरह कुल 35429 परीक्षार्थी परीक्षा में सफल हुए।