सीमा तनाव के लिए बीजिंग दोषी
    Date26-Jun-2020

er1_1  H x W: 0
नई दिल्ली द्य 25 जून (वा)
भारत ने लद्दाख के गलवान घाटी में चीन के साथ हुई सैन्य हिंसा के लिए गुरुवार को बीजिंग को कसूरवार ठहराते हुए उस पर आरोप लगाया कि उसने एलएसी पर बड़ी संख्या में अपने सैनिकों की तैनाती कर सभी सहमति के नियमों का उल्लंघन किया। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा, मई की शुरुआत से ही चीनी पक्षों की तरफ से वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैनिकों और हथियारों की तैनाती की गई, ऐसा हमारे बीच हुई सहमति में नहीं था। उन्होंने कहा, चीन वहां मई की शुरुआत से ही बड़ी संख्या में सैनिकों की तैनाती कर रहा था, ऐसे में भारत को इसके जवाब में तैनाती करनी ही पड़ी। दोनों पक्षों ने क्षेत्र में बड़ी संख्या में सैनिकों की तैनाती की। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीनी पक्ष का व्यवहार मौजूदा समझौतों के प्रति उसके पूर्ण असम्मान को दर्शाता है। भारत ने वास्तविक नियंत्रण रेखा पर कभी भी यथास्थिति को बदलने का प्रयास नहीं किया। मौजूदा स्थिति बने रहने से आगे और माहौल खराब होगा।