अलगाववादी अशरफ का आतंकवादी बेटा जुनैद ढेर
   Date20-May-2020

sd5_1  H x W: 0
श्रीनगर द्य 19 मई (वा)
जम्मू-कश्मीर की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर के पुराने इलाके में मंगलवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में अलगाववादी संगठन तहरीक-ए-हुर्रियत के अध्यक्ष अशरफ सेहराई का आतंकवादी बेटा जुनैद सेहराई समेत हिजबुल मुजाहिदीन के 2 आतंकवादी मारे गए, जबकि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक जवान सहित 3 रक्षाकर्मी घायल हो गए। मारे गए आतंकवादियों में से एक की पहचान जुनैद सेहराई के रूप में की गई है जो वर्ष 2018 से ही लापता था। हाथ में एके-47 लिए जुनैद का एक चित्र सोशल मीडिया पर भी वायरल हुआ था। हिंसा का रास्ता अपनाने वाला एमबीए डिग्री धारी जुनैद किसी वरिष्ठ अलगाववादी नेता का पहला बेटा था जो आतंकवादी बना था। एक अन्य मारे गए आतंकवादी की पहचान तारिक अहमद शेख के रूप में की गई है जो पुलवामा का निवासी है। राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल और सीआरपीएफ के जवानों ने मंगलवार तड़के दो बजे श्रीनगर में नवाकदल की घनी आबादी वाले कनेमजार क्षेत्र में घेराबंदी तथा तलाश अभियान शुरू किया। इसी दौरान मुठभेड़ शुरू हो गई। इस बीच, श्रीनगर में सुरक्षा कारणों से बीएसएनएल को छोड़कर सभी सेल्युलर और मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को स्थगित कर दिया गया है।
उन्होंने बताया कि तलाश अभियान के दौरान सुरक्षा बलों के जवान जब एक लक्षित मकान की ओर बढ़ रहे थे, तो वहां छुपे हुए आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों के जवानों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए गोलियां चलाई। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में हिजबुल के 2 आतंकवादी मारे गए, जबकि सुरक्षा बलों के 3 जवान घायल हो गए। मारे गए आतंकवादियों के पास से भारी मात्रा में हथियार एवं गोला-बारूद बरामद किए गए।