पुलिस ने शाहीन बाग समेत आठ प्रदर्शन स्थलों को खाली कराया
   Date25-Mar-2020

fg3_1  H x W: 0
नई दिल्ली द्य 24 मार्च (वा)
दिल्ली पुलिस ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरों और राजधानी में लगी धारा 144 के मद्देनजर मंगलवार सुबह नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ पिछले तीन महीने से अधिक समय से शाहीन बाग, हौजरानी, जफराबाद समेत आठ स्थानों पर जारी विरोध प्रदर्शन को खत्म कर प्रदर्शन स्थल को खाली करा लिया है।
दक्षिण पूर्वी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त राजेन्द्र प्रसाद मीना ने बताया कि सुबह शाहीन बाग में मौजूद प्रदर्शनकारियों से धरनास्थल खाली करने की अपील की गई, लेकिन वे नहीं माने। उसके बाद पुलिस द्वारा धरनास्थल को खाली करा दिया गया है और मौके से कुछ प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है। शाहीन बाग, जामिया मिल्लिया इस्लामिया, हौज रानी समेत आठ प्रदर्शन स्थलों को खाली कराया गया है।
हालांकि बाकी जगहों से किसी को हिरासत में नहीं लिया गया है। फिलहाल दिल्ली में नागरिकता कानून और एनआरसी के विरोध में चल रहे सभी धरनास्थल खाली हो गए हैं। शाहीन बाग प्रदर्शन में शुरुआती दिनों से जुड़ी महिलाओं ने बातचीत में कहा कि पुलिस ने सर्वोच्च अदालत की अवमानना करके जबरन प्रदर्शन स्थल को खाली कराया गया है। यह मामला सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है इसलिए किसी प्रकार की कार्रवाई से पहले अदालत के फैसले का इन्तजार करना चाहिए था। सरकार के लॉकडाउन का पूरा पालन किया जा रहा था। प्रदर्शन स्थल पर सिर्फ पांच महिलाएं मौजूद रहती थी लेकिन पुलिस को प्रदर्शनकारियों को हटाने का सिर्फ एक बहाना चाहिए था। पुलिस ने कोरोना संक्रमण का बहाना बनाकर बलपूर्वक स्थल को खाली करा लिया है।