रामलला को आज अस्थायी मंदिर में शिफ्ट किया जाएगा
   Date25-Mar-2020

df6_1  H x W: 0
अयोध्या द्य मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या में कल श्रीराम जन्मभूमि परिसर में विराजमान रामलला को अस्थायी मंदिर में शिफ्ट किया जाएगा। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्र ने आज यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अयोध्या में भी कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन की घोषणा करने के बाद श्रीराम जन्मभूमि पर विराजमान रामलला को उनके अस्थायी मंदिर में शिफ्ट करने के लिए पूजा-पाठ चालू हो गई है। उन्होंने बताया कि आज सुबह सात बजे से ही पन्द्रह वैदिक विद्वान रामलला के गर्भगृह में पूजा-अनुष्ठान शुरू कर दिया हैं जो रात्रि ग्यारह बजे तक चलेगा। उन्होंने बताया कि इसके बाद पच्चीस मार्च को रात दो बजे रामलला को जगाया जाएगा और उनका पूजन-पाठ होगा। उन्होंने बताया कि रास्ते का शुद्धीकरण होने के बाद भोर में ब्रह्म मुहूर्त में रामलला को अपने नए मंदिर में विराजमान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि नवरात्र के प्रथम दिन रामलला अपने नए मंदिर में नए आसन पर विराजमान होंगे।
चांदी के सिंहासन पर भगवान राम अपने चारों भाइयों के साथ बाल स्वरूप दर्शन देंगे। यह सिंहासन अयोध्या के राजपरिवार द्वारा रामलला को भेंट किया गया है जिसकी लम्बाई पच्चीस इंच, चौड़ाई पन्द्रह इंच और ऊंचाई चौबीस इंच है। हालांकि ट्रस्ट के पदाधिकारी इस कार्यक्रम को बहुत भव्य तरीके से करने को इच्छुक थे, परन्तु देश में व्याप्त कोरोना वायरस के अलर्ट के चलते अब यह कार्यक्रम सीमित कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कार्यक्रम भी रामलला को शिफ्ट करते समय उनकी मौजूदगी में होना था परन्तु अभी उसकी पुष्टि प्रशासन ने नहीं की है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य ने बताया कि सुबह चार बजे रामलला अपना टेंट का मंदिर छोड़कर अस्थायी मंदिर में विराजमान होंगे। रामलला का दर्शन नए अस्थायी मंदिर में कल सुबह चार बजे से शुरू होगा।