भारतीय डेविस कप टीम घोषित पेस बरकरार, बोपन्ना और शरण की वापसी
   Date07-Feb-2020

tf9_1  H x W: 0
नयी दिल्ली ठ्ठ 06 फरवरी (वार्ता)
भारतीय डेविस कप टीम में सबसे अनुभवी खिलाड़ी लिएंडर पेस को बरकरार रखा गया है जबकि टीम में शीर्ष युगल खिलाड़ी रोहन बोपन्ना तथा दिविज शरण की वापसी हुई है। यह टीम क्रोएशिया के खिलाफ 6-7 मार्च को विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबला खेलेगी।
अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने क्रोएशिया के खिलाफ मुकाबले के लिए गुरुवार को गैर खिलाड़ी कप्तान रोहित राजपाल सहित सात सदस्यीय टीम की घोषणा की। टीम के कोच जीशान अली हैं और खेलने वाली पांच सदस्यीय टीम की घोषणा मुकाबले से कुछ पहले की जाएगी। भारत ने पिछले वर्ष नवंबर में पाकिस्तान को कजाकिस्तान के नूर सुल्तान में हुए मुकाबले में 4-0 से पराजित कर विश्व ग्रुप क्वालीफायर मुकाबले में जगह बनायी थी। पेस इस मुकाबले में जीवन नेदुनचेझियन के साथ युगल मैच में खेले थे और उन्होंने यह मैच जीता था। बोपन्ना और शरण पिछले मुकाबले में टीम का हिस्सा नहीं थे लेकिन इस मुकाबले के लिए उनकी टीम में वापसी हुई है।
बोपन्ना के साथ-साथ युगल विशेषज्ञ शरण को टीम में शामिल किए जाने के बाद यह देखना दिलचस्प होगा कि टीम प्रबंधन युगल मुकाबले के लिए पेस, बोपन्ना और शरण में से किन दो खिलाडिय़ों को मौका देता है। पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मुकाबले का हिस्सा रहे साकेत मिनेनी और नेदुनचेझियन इस टीम से बाहर हैं। टीम के अन्य सदस्यों में प्रजनेश गुणेश्वरन की भी वापसी हुई है। वह एकल में भारतीय चुनौती की जिम्मेदारी संभालेंगे। युवा खिलाड़ी सुमित नागल और रामकुमार रामनाथन एकल मैचों में खेलेंगे।
46 वर्षीय पेस का डेविस कप में यह 21वां साल होगा। वह पहली बार देश के लिए 1990 में डेविस कप में खेले थे और अबतक कुल 57 मुकाबले खेले हैं और उनका एकल में 48 जीत और 22 हार तथा युगल में 44 जीत और 13 हार का रिकॉर्ड है। डेविस कप में उनका कुल रिकॉर्ड 92 जीत और 35 हार का है। वह डेविस कप इतिहास के सबसे सफल युगल खिलाड़ी हैं। पेस इस समय पुणे में टाटा ओपन महाराष्ट्र टूर्नामेंट खेल रहे हैं जो भारत में उनका आखिरी टूर्नामेंट है। एआईटीए की चयन समिति की गुरुवार को यहां हुई बैठक में टीम का चयन किया गया। बैठक की अध्यक्षता चयन समिति के अध्यत्र बलराम सिंह ने की। खिलाडिय़ों की उपलब्धता और प्रदर्शन के आधार पर टीम का चयन किया गया है और खेलने वाले पांच खिलाडिय़ोंं की घोषणा मुकाबले के कुछ पहले की जाएगी। रोहित राजपाल इस टीम के गैर खिलाड़ी कप्तान हैं जबकि टीम में एकल मुकाबलों के लिए प्रजनेश, सुमित और रामकुमार रहेंगे जबकि युगल मैच के लिए बोपन्ना पेस और शरण को रखा गया है। पाकिस्तान के खिलाफ एशिया ओसनिया जोन ग्रुप ए मुकाबले में रामकुमार और सुमित ने अपने-अपने एकल मैच जीते थे। देश के शीर्ष युगल खिलाड़ी बोपन्ना और शरण इस मुकाबले के लिए टीम में लौटे हैं और टीम प्रबंधन एक जोड़ी के रुप में इन दोनों खिलाडिय़ों को प्राथमिकता दे सकता है। बोपन्ना और शरण दोनों ही इस समय पुणे में टाटा ओपन में खेल रहे हैं। बोपन्ना और शरण ने पिछले साल टाटा ओपन में पुरुष युगल का खिताब जीता था लेकिन इस बार दोनों ही खिलाड़ी अलग-अलग जोड़ीदारों के साथ उतरे हैं।