5 विधायक व सचिवालय के 60 कर्मचारी कोरोना संक्रमित
   Date28-Dec-2020

az3_1  H x W: 0
भोपाल द्य 27 दिसम्बर (वा)
मध्यप्रदेश विधानसभा का सोमवार से प्रस्तावित तीन दिवसीय शीतकालीन सत्र कोरोना के कारण सर्वदलीय बैठक में विचार-विमर्श के बाद स्थगित कर दिया गया।
देर शाम सामयिक अध्यक्ष रामेश्वर शर्मा के सभापतित्व में हुई सर्वदलीय बैठक में लिए गए निर्णय के आधार पर सत्र स्थगित किया गया है। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा और नेता प्रतिपक्ष कमल नाथ भी मौजूद थे। विधानसभा के कम से कम 60 अधिकारी कर्मचारी और कम से कम 5 विधायक सत्र के मद्देनजर कराई गई कोरोना संबंधी जांच में संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सत्र स्थगित किया गया है। बैठक के बाद संसदीय कार्यमंत्री श्री मिश्रा ने मीडिया से कहा कि सबसे चर्चा के बाद सामयिक अध्यक्ष ने सत्र स्थगित करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि सत्र के दौरान जो महत्वपूर्ण विधेयक आने वाले थे, उनके संबंध में अध्यादेश लाए जाएंगे। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि अब अगला सत्र 'बजट सत्रÓ ही होने की संभावना है।
विपक्ष की आवाज नहीं दबना चाहिए
नेता प्रतिपक्ष कमल नाथ ने मीडिया से कहा कि विधायकों की ओर से प्राप्त सवालों के जवाब के संबंध में उन्होंने सुझाव दिया है कि विधायकों की समितियां बना दी जाए और उनके समक्ष मंत्रियों की तरफ से संबंधित विधायकों के सवालों के जवाब आना चाहिए। उन्होंने कहा कि विपक्ष की आवाज नहीं दबना चाहिए, साथ ही उन्होंने कहा कि कोविड पर नियंत्रण भी हमारी प्राथमिकता है।