कार्यकर्ताओं की 20 हजार टोलियां करेंगी घर-घर संपर्क
   Date19-Nov-2020

cd4_1  H x W: 0
इंदौर द्य 18 नवम्बर स्वदेश समाचार
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और उसके सम वैचारिक संगठनों के कार्यकर्ताओं की बैठक केशव विद्या पीठ में संपन्न हुई। जिसमें विश्व हिन्दू परिषद् के प्रांतीय संगठन मंत्री श्री नन्ददास ने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र की भूमिका रखी जिसमें उन्होंने बताया कि किस प्रकार से सम्पूर्ण देशवासी सैकड़ों वर्षों से श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए व्रत लिए हुए थे कोई दशकों से नंगे पैर ही चल रहा था, तो किसी ने मंदिर निर्माण से पहले पगड़ी नहीं बांधने की शपथ ले रखी है। प्रभु श्रीराम का यह मंदिर ऐसे सभी हिन्दू बंधुओं की भावनाओं को संभल प्रदान करेगा।
बैठक में श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र अभियान मालवा प्रान्त के संयोजक सोहन विश्वकर्मा ने विश्व हिन्दू परिषद् के केंद्रीय मार्गदर्शक संतों के प्रन्यासी मंडल की बैठक में संतों द्वारा पारित प्रस्तावों की चर्चा की जिसमें प्रथम प्रस्ताव में केन्द्रीय सत्ता द्वारा राष्ट्रीय हितों एवं भारतीय संस्कृति के प्रति सकारात्मक चिंतन की सराहना की और प्रभु श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने के लिए तथा अन्य तीर्थ क्षेत्रों के लिए समग्र विकास की योजना के लिए साधुवाद किया है। दूसरे प्रस्ताव में सभी संगठनों के कार्यकर्ताओं तथा सम्पूर्ण हिन्दू समाज का साधुवाद किया जिन्होंने इतने दशकों तक इस पुनीत कार्य के लिए सतत संघर्ष किया और तन-मन-धन के साथ सम्पूर्ण समर्पण के साथ कार्य करते हुए श्रीराम जन्मभूमि के विषय को पीढ़ी दर पीढ़ी जीवंत रखा।
हम सभी बंधु सौभाग्यशाली है जो श्रीराम मंदिर निर्माण के स्वप्न को साकार होते हुए देख रहे है। वास्तव में ये तो ईश्वरीय कार्य है। इश्वर की कृपा से ही हो रहा है। रामजी करा रहे हंै, राम जी का काज है Ó इस भाव को अपने ह्रदय में धारण करके मालवा प्रान्त के सभी संवैचारिक संगठनों के कार्यकर्ता प्रत्येक गांव, गली, मोहल्ले के सभी घरों तक जाएंगे धन रूपी समिधा एकत्र करेंगें। इस कार्य को ठीक प्रकार से संचालित करने के लिए सभी संगठनों की ग्राम और मोहल्ले की अभियान टोलियों का गठन किया जाएगा। ये टोलियां मकर संक्रांति पर्व से घर-घर संपर्क करके प्रत्येक हिन्दू घर तक राम जन्मभूमि मंदिर आन्दोलन का इतिहास बताएंगे जिसमें सभी संगठनों और हिन्दू समाज के हजारों समयदानी कार्यकर्ता अपना समय देकर हिन्दू समाज का जागरण करेंगे और जिस प्रकार रामसेतु के निर्माण में गिलहरी का योगदान भी बहुत महत्वपूर्ण है, उसी प्रकार भव्य और दिव्य श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के सभी देशवासियों का योगदान अपेक्षित है।
सभी परिवारों की सहभागिता हो - बैठक के सामापन पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रांत संघचालाक डॉ. प्रकाश शास्त्री ने कहा कि प्रभु श्रीराम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिए सैकड़ों वर्षों से चले आ रहे सतत संघर्ष के परिणामस्वरूप इस पवित्र कार्य की पूर्णाहुति का समय आ गया है। हम सभी की तन-मन-धन की सहभागिता से ही यह कार्य पूर्ण होगा। सभी समाजों के सभी परिवारों की सहभागिता ही प्रभु श्रीराम जन्मभूमि मंदिर को दिव्यता और भव्यता प्रदान करेगी। उक्त जानकारी मालवा प्रांत प्रचार प्रमुख विनय दीक्षित ने दी।