2 लाख ६५ हजार करोड़ का पैकेज
   Date13-Nov-2020

ws1_1  H x W: 0
कोरोनाकाल में दीपावली का तोहफा, आत्मनिर्भर भारत पैकेज 3.0 की घोषणा
किसानों को सब्सिडी, नए रोजगार सृजन व उद्योगों के लिए कई तरह की राहत
नई दिल्ली ठ्ठ 12 नवंबर (वा)
दीपावली से पहले सरकार ने अर्थव्यवस्था को एक और बूस्टर दिया है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2 लाख 65 हजार करोड़ रुपए के तीसरे प्रोत्साहन पैकेज का ऐलान किया। इसके साथ उन्होंने नई रोजगार सृजन योजना की घोषणा की।
सरकार ने कोरोना के कारण प्रभावित अर्थव्यवस्था को गति देने और रोजगार सृजन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से दीपावली से पहले ही आज तोहफा की घोषणा की, जिसमें रोजगार, किसान, आम आदमी से लेकर इंडस्ट्रीज तक के लिए कई बड़ी घोषणाएं की हैं। इसके साथ कोरोना वैक्सीन के शोध एवं विकास के लिए 900 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। आज की योजना से पहले रोजगार प्रोत्साहन योजना 31 मार्च 2019 तक लागू की गई थी, जिसमें कुल मिलाकर 8300 करोड़ रुपए के फायदे 1 लाख 52 हजार संस्थाओं को मिले थे। सरकार अब एक दूसरी रोजगार योजना आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना लागू कर रही है, जिस पर दो वर्षों में छह हजार करोड़ रुपए व्यय किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत लोगों को ईपीएफओ से जोड़ा जाएगा। वे लोग जो पहले ईपीएफओ में रजिस्टर्ड नहीं थे और अब रजिस्टर्ड होंगे, इस स्कीम के दायरे में आएंगे। साथ ही वे लोग जिनकी नौकरी 1 मार्च 2020 से लेकर 31 सितंबर 2020 के दौरान चली गई है, भले ही 1 अक्टूबर 2020 के बाद नई नौकरी मिल गई है, उन्हें भी इसका फायदा मिलेगा। ये स्कीम 1 अक्टूबर से लागू होगी और 2 साल तक चलेगी।