स्विंग मास्टर इरफान पठान ने क्रिकेट को कहा अलविदा
    Date04-Jan-2020

f_1  H x W: 0 x 
नयी दिल्ली, 04 जनवरी (वार्ता) भारतीय क्रिकेट में एक समय अपनी स्विंग गेंदबाज़ी का लोहा मनवा चुके इरफान पठान ने शनिवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर अपने 17 बरस के सुनहरे करियर पर विराम लगा दिया।
इरफान हालांकि लंबे अर्से से भारतीय क्रिकेट से बाहर चल रहे थे और राष्ट्रीय टीम की ओर से अपना आखिरी वनडे वर्ष 2012 में श्रीलंका के खिलाफ पल्लीकल तथा आखिरी ट्वंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच अक्टूबर 2012 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। उन्होंने आखिरी टेस्ट भारत की ओर से अप्रैल 2008 में खेला था। ऐसे में स्विंग गेंदबाज़ ऑलराउंडर का 17 वर्ष के अपने लंबे क्रिकेट करियर पर विराम लगाने का फैसला चौंकाने वाला नहीं है। इरफान वर्ष 2007 में विश्व विजेता ट्वंटी 20 भारतीय टीम का हिस्सा रहे थे। अपने करियर के शुरूआती दौर में ही इरफान स्टीव वॉ और एडम गिलक्रिस्ट को अपनी रिवर्स स्विंग गेंदबाज़ी से चौंकाकर चर्चा में आ गये थे। उन्होंने जनवरी 2004 में सिडनी में प्रभावशाली प्रदर्शन के तीन वर्ष बाद विश्वकप टीम में जगह बनाई थी। इरफान का करियर हालांकि उतार चढ़ाव भरा रहा और भारत की ओर से उन्होंने करियर में 29 टेस्ट,120 वनडे तथा 24 ट्वंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले।