भारत की व्यापक सांस्कृतिक विविधता ही पर्यटकों के आकर्षण का केन्द्र-पटेल
   Date16-Jan-2020

rt7_1  H x W: 0
नई दिल्ली ठ्ठ 15 जनवरी (वा)
केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने कहा है कि देश की व्यापक सांस्कृतिक विविधता ही विश्व के पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करती है और केन्द्र सरकार देश की इस समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को अक्षुण्ण और मजबूत बनाने की दिशा में अथक प्रयास कर रही है।
श्री पटेल ने बुधवार को यहां पहले अंतर्राष्ट्रीय विरासत परिसंवाद एवं प्रदर्शनी (आईएचएसई) का उद््घाटन करने के मौके पर कहा कि देश की विविधतापूर्ण सांस्कृतिक विरासत ही हमारी धरोहर है और यही पर्यटकों के भारत आने का प्रमुख आकर्षण केन्द्र बिन्दु हैं तथा सरकार इसे बनाए रखने और पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में प्रयास कर रही है। यह प्रदर्शनी एक माह तक चलेगी और इसे विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) और कर्नाटक राज्य विज्ञान एवं तकनीक परिषद (केएससीएसटी) ने संयुक्त रूप से प्रायोजित किया है तथा इसका आयोजन भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली ने किया है। उन्होंने कहा कि आज के युग की मौजूदा तकनीक का इस्तेमाल विरासत को बचाने के लिए करने से न केवल समाज का हर हिस्सा इस तक आसानी से पहुंच बना सकेगा बल्कि यह वास्तव में एक महान प्रयास साबित होगा। उन्होंने कहा आईआईटी वालों ने यह बहुत अच्छा काम किया है और विज्ञान का मतलब सिर्फ अनुसंधान ही नहीं होता है बल्कि यह आम जनता तक जाए और सारा फोकस इसी बात पर रहना चाहिए क्योंकि देश के संग्रहालयों और अभिलेखागारों में अनपढ़ आदमी भी आएगा और एक शोध छात्र भी आएगा और अपनी सुविधा के लिए तकनीक के उस गलियारे से अगर वह गुजरेगा तो उसे पता रहेगा कि उसे किस तरफ जाना हैं। यह एक सराहनीय कदम है जो समय बचाएगा।