माफिया के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाने के निर्देश
   Date16-Jan-2020

rt6_1  H x W: 0
भोपाल द्य 15 जनवरी (वा)
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ ने आम लोगों की समस्याओं के निराकरण के उद्देश्य से शुरू किए गए आपकी सरकार-आपके द्वार कार्यक्रम में शिकायतों का फॉलोअप नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मौके पर ही शिकायतों का निराकरण न होने से इस कार्यक्रम का उद्देश्य ही पूरा नहीं हो पाता है। साथ ही उन्होंने कहा कि ने कलेक्टरों से कहा है कि वे माफिया के विरूद्ध सख्त से सख्त कदम उठाएं। नगर निगमों, नगर पालिकाओं के कानूनों का उल्लंघन करने वालों पर कानून के अनुसार सामान्य प्रक्रिया में कार्रवाई होने दें।
मुख्यमंत्री ने कल रात यहां मंत्रालय में जन अधिकार कार्यक्रम में वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान संभागायुक्तों और कलेक्टरों को विभिन्न मुद्दों को लेकर निर्देश दिए। इसी अवसर पर श्री कमल नाथ ने कहा कि सभी कलेक्टर प्राप्त शिकायतों का मौके पर ही निराकरण करें और यह भी सुनिश्चित करें कि शिकायतकर्ता निराकरण से संतुष्ट हो।आधिकारिक जानकारी के अनुसार सीएम हेल्पलाइन में शिकायतों के समाधान में इस महीने प्रथम पांच जिले उज्जैन, टीकमगढ़, रतलाम, सिंगरौली और मंडला रहे। खरगोन, शाजापुर, अनूपपुर, सतना और बुरहानपुर निचले पायदान पर रहे। नर्मदा घाटी विकास, जनसंपर्क, विधि विधायी कार्य, अनुसूचित जनजाति कल्याण और खनिज विभाग सबसे कम शिकायतों वाले विभाग रहे। मुख्यमंत्री ने आम जनता की जायज समस्याओं और शिकायतों का सामान्य प्रक्रिया के तहत तत्काल निराकरण किए जाने की कार्य-संस्कृति विकसित करने के निर्देश कलेक्टरों को दिए।