डॉक्टरों, एनएचएम और डेंटिस्ट के खाली पदों पर नियुक्ति के निर्देश
   Date15-Jan-2020

fr6_1  H x W: 0
भोपाल द्य मध्यप्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने निर्देश दिए हैं कि जिलों में डॉक्टर्स, एनएचएम और डेंटिस्ट के पांच हजार से अधिक रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाए।
आधिकारिक जानकारी में श्री सिलावट ने यहां मंत्रालय में स्वास्थ्य विभाग की योजनाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने भोपाल के शासकीय जे.पी. अस्पताल और इंदौर के पी.सी. सेठी अस्पताल को आदर्श अस्पताल बनाने के प्रक्रिया शुरू करें के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाएं देने वाले डॉक्टर्स के लिये प्रदेश-स्तर पर सम्मान समारोह आयोजित किया जाए। जिला और सिविल अस्पतालों में सप्ताह में एक दिन सीएमएचओ और बीएमओ अनिवार्य रूप से स्वच्छता अभियान चलाएं। श्री सिलावट ने कहा कि जिन डॉक्टर्स के विरुद्ध लोकायुक्त में प्रकरण दर्ज है, उन्हें तुरंत हटाया जाए। अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों को तत्परता से निपटायें। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के राज्य स्तरीय अधिकारी संभाग स्तर पर स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा करें और सभी अस्पतालों का निरीक्षण भी करें। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने खाद्य सुरक्षा एवं औषधि विभाग की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि मेडिकल स्टोर्स को लायसेंस देने की कार्यवाही अधिकतम 30 दिन में पूरी करें। इसमें किसी भी तरह की देरी स्वीकार्य नहीं होगी। श्री सिलावट ने निर्देश दिये कि नकली दवाओं की बिक्री रोकने के लिये सख्त कदम उठाएं।
ऐसी दवाओं के सेम्पल की जाँच अधिकतम 20 दिन में पूरी कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। बैठक में प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण पल्लवी जैन गोविल ने बताया कि प्रदेश में 2000 से अधिक डॉक्टर्स की भर्ती की प्रक्रिया शीघ्र पूरी की जा रही है। इसके साथ ही 2000 से अधिक एएनएम की भर्ती भी शुरू की जा रही है। आयुक्त लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण ने बताया कि 17 जनवरी से राज्य लोक सेवा आयोग से चयनित 547 डॉक्टर्स की पदस्थापना शुरू की जा रही है।