सेनाध्यक्ष के.एम. करिअप्पा
   Date15-Jan-2020

fr13_1  H x W:
सेना दिवस आज
भा रतीय थल सेना 15 जनवरी को सेना दिवस मनाती है। इस दिन थल सेना अपनी शक्ति का प्रदर्शन करती है और प्रथम भारतीय सेनाध्यक्ष के.एम. करिअप्पा के पद ग्रहण उपलक्ष्य को बड़े धूमधाम से मनाती है। आज ही के दिन 1949 में भारतीय सेना पूरी तरह ब्रिटिश सेना से आजाद हो गई थी और फील्ड मार्शल के एम करिअप्पा आजाद भारत के पहले सेना प्रमुख बने थे। इससे पहले करिअप्पा ब्रिटिश मूल के फ्रॉन्सिस बूचर बतौर सेना प्रमुख थे। करिअप्पा ने 1947 के भारत-पाक युद्ध में भारतीय सेना का नेतृत्व किया था। साल 1949 में भारतीय थल सेना में करीब 2 लाख सैनिक थे, जबकि आज वो संख्या 13 लाख से भी ज्यादा है। 15 जनवरी को सेना दिवस का यह समारोह नई दिल्ली के इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति में भारत के शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित करके शुरू किया जाता है।