5 ऐतिहासिक संग्रहालयों को अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्वरूप दिया जाएगा-मोदी
   Date12-Jan-2020

df3_1  H x W: 0
कोलकाता द्य 11 जनवरी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश के पांच ऐतिहासिक संग्रहालयों को अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्वरूप दिया जाएगा और इसकी शुरुआत विश्व के सबसे पुराने संग्रहालयों में से एक इंडियन म्यूजियम कोलकाता से की जा रही है।
श्री मोदी ने शनिवार को यहां ओल्ड करेंसी बिल्डिंग के पुनर्निर्मित भवन का उद्घाटन करते हुए कहा, हम देश की संस्कृति, परंपरा और विरासतों को संरक्षित करने तथा फिर से नया बनाने के लिए एक राष्ट्रीय अभियान की शुरुआत आज कोलकाता से कर रहे हैं। देश की संस्कृति एक नए रूप में विश्व के सामने प्रदर्शित हो और भारत एक बड़े हेरिटेज टूरिज्म सेंटर के रूप में उभरे, इसीलिए यह अभियान शुरू किया गया है। उन्होंने कहा, जब मैंने प्रदर्शनी को देखा, तो ऐसा लगा जैसे मैं उन महान क्षणों को महसूस कर रहा हूं, जिसे महान चित्रकारों और कलाकारों ने बनाया और जीया है। मैं बंगाल की मिट्टी की इस अद्भुत शक्ति को सलाम करता हूं। प्रधानमंत्री ने कहा, मेरा हृदय और मस्तिष्क संस्कृति और साहित्य के शहर कोलकाता में आने के बाद आनंद से भर गया। यह मेरे लिए खुद को तरोताजा करने तथा बंगाल की गौरवशाली कला और सांस्कृतिक पहचान को सलाम करने का अवसर है। मैं चाहता हूं कि भारत हेरिटेज टूरिज्म के लिए एक केंद्र के रूप में उभरे। पश्चिम बंगाल और कोलकाता इस दौड़ की अगुवाई कर सकता है। पर्यटन को बढ़ावा देने से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि 2022 में जब देश अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनायेगा, तब हम ईश्वरचंद्र विद्यासागर की 200वीं जयंती वर्ष मनाएंगे। साथ ही हम प्रसिद्ध समाजसुधारक एवं शिक्षाविद् राजा राम मोहन राय की 250वीं जयंती भी मनाएंगे।