केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा
   Date11-Jan-2020

dc7_1  H x W: 0
वाम मंसूबे बेनकाब
नई दिल्ली द्य जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आइशी घोष सहित परिसर में हमला करने वाले नौ संदिग्धों की तस्वीर जारी कर दी है। दिल्ली पुलिस की ओर से जारी संदिग्धों की तस्वीर पर केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और स्मृति ईरानी का बयान सामने आया है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि पुलिस सच्चाई को सामने लाई, यह स्पष्ट है कि वामपंथी छात्र संगठन हमले में शामिल थे। जावड़ेकर ने कहा कि जानबूझकर इसका दोष अभाविप, भाजपा और अन्य पर मढ़ा जा रहा था, जो कि सच नहीं था। जावड़ेकर ने कहा कि भाकपा, माकपा, आआपा जैसे दलों को लोकसभा चुनाव में खारिज कर दिया गया, अब वे अपने निहित स्वार्थों के लिए छात्रों का उपयोग कर रहे हैं।
जेएनयू के छात्रों को अपना आंदोलन समाप्त कर शैक्षणिक सत्र शुरू होने देना चाहिए, वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा साक्ष्य जारी किए जाने के बाद जेएनयू में वाम मंसूबे बेनकाब हुए। वाम दल राजनीतिक लड़ाई के मैदान के रूप में परिसर का उपयोग कर रहे हैं।