अमित शाह- जम्मू-कश्मीर स्वर्ग था, है और रहेगा
   Date05-Aug-2019
 

कश्मीर में तनावपूर्ण स्थिति और सैनिकों की तैनाती बढ़ाने के बीच केन्द्र सरकार ने सोमवार को बड़ा फैसला लिया है। पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक के बाद राज्यसभा में होम मिनिस्टर अमित शाह ने जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 के खंड एक को छोड़कर सभी खंडों को खत्म करने का ऐलान किया। जिसके बाद जम्मू कश्मीर अब केन्द्र शासित प्रदेश बन जाएगा। इसके साथ ही, लद्दाख को इससे अलग केन्द्र शासित प्रदेश बनाने का भी ऐलान किया गया।
इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, गृह सचिव राजीव गौबा की मौजूदगी में एक घंटे तक शीर्ष अफसरों के साथ बैठक की हुर्रियत, आईएसआई, घुसपैठिए इन सब लोगों ने कश्मीर के युवाओं को गुमराह किया है। 1990 से लेकर 2018 तक 41,894 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है:  
70 के कारण जम्मू कश्मीर में देश का कोई बड़ा डॉक्टर नहीं जाना चाहता, क्योंकि वहां वो अपना घर नहीं खरीद सकता, वहां का मतदाता नहीं बन सकता और वहां खुद को सुरक्षित नहीं महसूस करता। 370 आरोग्य में भी बाधक है: