भारत-विरोधी गतिविधियां क्षेत्रीय शांति के लिए शुभ संकेत नहीं-मोदी
   Date19-Aug-2019

नई दिल्ली   19 अगस्त (वा)
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाए जाने के बाद भारत विरोधी माहौल तैयार करने की पाकिस्तान की कोशिशों के परिप्रेक्ष्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से टेलीफोन पर बात की और कहा कि कुछ क्षेत्रीय नेताओं की भारत के खिलाफ हिंसा भड़काने की कोशिश क्षेत्रीय शांति के लिए शुभ संकेत नहीं है।
श्री मोदी ने पाकिस्तानी नेताओं का नाम लिए बिना कहा कि कुछ क्षेत्रीय नेता लगातार भारत विरोधी राग अलाप रहे हैं और भारत के खिलाफ हिंसा का माहौल तैयार करने के लिए दूसरों को भड़का रहे हैं, जो शांति के लिए अच्छा नहीं है। उन्होंने आतंक और हिंसा से मुक्त वातावरण तैयार करने तथा सीमा पार आतंकवाद को समाप्त करने पर जोर दिया। करीब 30 मिनट तक हुई इस बातचीत में दोनों नेताओं ने कई द्विपक्षीय तथा अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर बात की। अफगानिस्तान की स्वतंत्रता के आज 100 साल पूरे होने का उल्लेख करते हुए श्री मोदी ने सही मायने में अखंड, सुरक्षित, लोकतांत्रिक और स्वतंत्र अफगानिस्तान के लिए भारत की प्रतिबद्धता दुहराई।
श्री मोदी ने दोनों नेताओं के बीच इस साल जून के अंत में ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान हुई मुलाकात को याद किया। उन्होंने श्री ट्रंप के साथ नियमित संपर्क रहने का भी उल्लेख किया। प्रधानमंत्री ने उम्मीद जताई कि भारत के वाणिज्य मंत्री और उनके अमेरिकी समकक्ष के बीच द्विपक्षीय व्यापार के मुद्दों पर चर्चा के लिए जल्द से जल्द बैठक होगी जिससे दोनों देशों को लाभ होगा।