आईएमएफ के 6 अरब डालर ऋण में पाकिस्तान को शुद्ध प्राप्ति 1.65 अरब डालर
   Date09-Jul-2019

इस्लामाबाद ठ्ठ 8 जुलाई (वा)
आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान को अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से छह अरब डालर के बेलआउट पैकेज के तहत चार वर्ष में शुद्ध प्राप्ति केवल 1.65 अरब डालर की होगी।
आईएमएफ और पाकिस्तान के बीच छह अरब डालर का समझौता हाल ही में हुआ है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इस वित्त वर्ष की शुरुआत से पाकिस्तान को 2021-22 में खत्म होने वाले तीन वर्षों के दौरान आईएमएफ से कुल छह अरब डालर की राशि प्राप्त होगी, जबकि उसे 2022-23 तक समाप्त होने वाले चार वर्षों में करीब 4.355 अरब डालर का पुनर्भुगतान करना होगा। इस प्रकार उसे आईएमएफ से शुद्ध प्राप्ति 1.65 अरब डालर की ही होगी। अधिकारी ने बताया कि सरकार को आईएमएफ से समझौते के तहत करीब एक अरब डालर की राशि इसी सप्ताह मिलने की उम्मीद है। यह राशि मिलने से पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार अल्पकालिक अवधि के लिए बढ़ जाएगा, किंतु पहले विस्तारित कोष सुविधा (ईएफएफ) के तहत प्राप्त 6.4 अरब डालर राशि के पुनर्भुगतान की शर्तों को पूरा करने के लिए अदायगी पहले ही शुरू हो चुकी है। ईएफएफ के तहत पहले प्राप्त राशि का भुगतान साढ़े चार वर्ष और दस वर्षों के भीतर करना है। इस राशि की अदायगी 12 समान अद्ध्र्रवार्षिक किस्तों में करनी है। इस राशि का भुगतान वित्त वर्ष 2013.214 से शुरू होकर सितंबर 2016 तक करना है।