कुमारस्वामी बोले - जेडीएस के सभी मंत्रियों ने भी दिया इस्तीफा, कैबिनेट में फेरबदल जल्द
   Date08-Jul-2019

बेंगलुरु/नई दिल्ली द्य 8 जुलाई (वा)
कांग्रेस ने एक दर्जन से अधिक विधायकों के इस्तीफे से संकट में फंसी कर्नाटक की 13 माह पुरानी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार को बचाने की अंतिम कोशिश के तहत सोमवार को कहा कि मंत्रिमंडल में फेरबदल करने और असंतुष्ट विधायकों को उसमें जगह देने का मार्ग प्रशस्त करने के लिए उसके मंत्रियों ने स्वेच्छा से इस्तीफा दे दिया है। कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने ट्वीट करके बताया है कि कांग्रेस के 21 मंत्रियों की तरह जेडीएस के भी सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। उधर गठबंधन सरकार से बागी हुए विधायक मुम्बई से गोवा के लिए रवाना हो गए हैं। एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली सरकार के 31 मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया। मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी का कहना है कि राज्य में पैदा हुए सियासी संकट को बातचीत के जरिए सुलझा लिया जाएगा और सरकार को कोई खतरा नहीं है। कुमारस्वामी ने ट्वीट करके बताया कि जल्द ही कैबिनेट में फेरबदल होगा।
बेंगलुरु में उपमुख्यमंत्री जी. परमेश्वर के निवास पर हुई कांग्रेस मंत्रियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में कांग्रेस विधायक दल के नेता सिद्धारमैया और कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने भी हिस्सा लिया। इस बैठक के बाद मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कांग्रेस नेताओं से बातचीत की। बैठक के बाद वेणुगोपाल ने संवाददाताओं से कहा- पार्टी के व्यापक हित में कल और आज हमने वरिष्ठ नेताओं और मंत्रियों के साथ विस्तृत चर्चा की। आज सुबह हमने मंत्रियों के साथ बैठक की। जहां तक कांग्रेस मंत्रियों की बात है तो वर्तमान स्थिति में उन्होंने स्वेच्छा से मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। वेणुगोपाल ने कहा- उन्होंने वर्तमान परिदृश्य में इन मुद्दों के समाधान के लिए मंत्रिमंडल में फेरबदल पर जरूरी फैसला करने का जिम्मा कांग्रेस पार्टी पर छोड़ दिया है। मैं मंत्रियों को बहुत-बहुत धन्यवाद देता हूं। सिद्धारमैया ने भी कहा कि सभी कांग्रेस मंत्रियों ने स्वेच्छा से इस्तीफा दे दिया है और पार्टी को मंत्रिमंडल में फेरबदल करने पर पूरी आजादी दे दी है। कुछ इस तरह चला कर्नाटक का सियासी घटनाक्रम
ठ्ठ सोमवार को निर्दलीय विधायक एच. नागेश ने भी मंत्री पद से इस्तीफा देते हुए राज्य सरकार से समर्थन वापस ले लिया। नागेश ने राज्यपाल वजुभाईवाला को चि_ी लिख कहा है कि अगर भाजपा सरकार बनती है तो वे उन्हें समर्थन देंगे। इसके बाद वह मुंबई रवाना हो गए, जहां पहले से ही कांग्रेस-जेडीएस के कई विधायक मौजूद हैं। सभी एक लग्जरी होटल में ठहरे हुए हैं।