प्रदेश के अनेक हिस्सों में झमाझम, नदी-नाले उफान पर
   Date07-Jul-2019

भोपाल द्य 6 जुलाई (वा)
लगभग पूरे मध्यप्रदेश में मानसून की सक्रियता के बीच पिछले 24 घंटों में राजधानी भोपाल समेत राज्य के मालवा-निमाड़ के अन्य स्थानों पर भी रुक-रुककर हल्की-तेज बारिश का सिलसिला लगातार जारी है। अनेक स्थानों पर नदी-नाले उफान पर है वहीं शहरी व ग्रामीण क्षेत्र की नीचली बस्तियों में जल जमाव ने अनेक परेशानियां खड़ी कर दी। इंदौर में २४ घंटे में ४ इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई है। स्थानीय मौसम केंद्र के मुताबिक अगले 24 घंटे में राजधानी भोपाल और इसके आसपास कई स्थानों पर रुक-रुककर बारिश से लेकर तेज बौछारों तक की संभावना है। प्रदेश के वनवासी अंचल झाबुआ और आलीराजपुर जिलों में लगातार चार दिन से हो रही भारी बारिश के कारण जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित होने लगा है। दोनों ही जिलों की सभी नदियां उफान पर बह रही है। दोनों जिले में झमाझम हो रही बारिश के चलते कई गांवों का सड़क संपर्क टूट गया है। रपटों पर से तेज पानी बह रहा है। कई कॉलोनीयों में पानी घुस गया है। झाबुआ जिले के रानापुर में तीन इंच से अधिक बारिश हुई है तो आलीराजपुर जिले के भाबरा में चार इंच से अधिक बारिश हुई है। कई ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली बंद हो गई है।
ठ्ठ आलीराजपुर जिले के नर्मदा डूब क्षेत्र में नर्मदा में जल स्तर आहिस्ता-आहिस्ता बढऩे लगा है। ककराना में नर्मदा डूब क्षेत्र में नर्मदा का जल स्तर 120 मीटर पर पहुंच गया है। यहां पर जिला प्रशासन ने होमगार्ड के कुछ जवानों की ड्यूटी सतर्कता हेतु लगाई है।
ठ्ठ इन दोनों ही जिलों की अनास, माही, नर्मदा, पम्पावती, पद्मावती, नौगांवा, हथनी, चुडेली, सुकड़ी, मधुकन्या आदि नदियां पूरे उफान पर बह रही हैं। दोनों ही जिलों में जिला प्रशासन ने सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए हैं।
ठ्ठ रायसेन जिले में बेगमगंज के पास पठा पुल क्षतिग्रस्त होने से सागर-भोपाल सड़क मार्ग पूरी तरह बंद हो गया। इसी मार्ग पर स्थित कहूला पुल पर भी पानी आने से यहां दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।
ठ्ठ भोपाल के करोंद अंडरब्रिज पर सुबह एक बस फंस गई, जिसे प्रशासन ने मशक्कत के बाद निकाला। बस में से यात्रियों को पहले ही उतार लिया गया था।
ठ्ठ जबलपुर संभाग में आने वाले मंडला में पिछले चार दिन से हो रही लगातार बारिश के कारण नर्मदा का जलस्तर बढ़ गया है। यहां पुरानी रपटा के ऊपर पानी बहने लगा है। मालवा व निमाड़ अंचल में आने वाले अनेक स्थानों पर बारिश हो रही है।
ठ्ठ उमरिया में आज सुबह 5 बजे से 11 बजे तक गरज-चमक के साथ झमाझम बारिश हुई। इन 6 घंटों में 90 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज हुई है। इस बारिश से नदी-नालों और जलाशयों में जलस्तर बढऩे के साथ जिले में बोवनी के कार्य में तेजी आ गई है।