जोरदार बारिश से कई स्थानों पर नदी-नाले आए उफान पर
   Date04-Jul-2019

भोपाल द्य 4 जुलाई (वा)
मध्यप्रदेश में मानसून की गतिविधियां जोर पकडऩे के कारण राज्य के अधिकांश स्थानों पर आज अच्छी बरिश हुई और कई स्थानों पर नदी-नाले में जलस्तर बढ़ा है। प्रदेश के आदिवासी बाहुल्य झाबुआ और आलिराजपुर जिले में लगातार रुक-रुक हो रही अच्छी बारिश के कारण दोनों जिलों में नदी नाले उफान पर बह रहे हैं। लगातार हो रही बारिश के चलते कई रपटो पर पानी आ गया है। थांदला की ऋतुराज कालोनी में पानी भर जाने से लोगों की मुश्किले बढ़ गई है। अनास, माही, पम्पावती, पदमावती, नौगांवा, हथनी, सुकड़ी आदि नदियां अपने पूरे वेग से बह रही है।
स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के प्रवक्ता के अनुसार राज्य के जबलपुर, ग्वालियर, होशंगाबाद, पचमढ़ी, बैतूल, सतना, सीधी, टीकमगढ़, गुना, रतलाम, नौगांव, उज्जैन, शाजापुर, खजुराहो, सागर, रायसेन, दमोह, इंदौर, खंडवा, धार, सिवनी, उमरिया, नरसिंहपुर, मलाजखंड और श्योपुर जिले में बारिश हुई।
सबसे ज्यादा वर्षा रतलाम में दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तर अरब सागर, गुजरात, मध्यप्रदेश और राजस्थान के कुछ और हिस्सों में आगे बढ़ा है और इसके कारण प्रदेश में मानसून की गतिविधिया जोर पकड़ी है। उत्तरी मध्यप्रदेश में एक कम दवाब का क्षेत्र बनने के कारण अगले 24 घंटों के दौरान होशंगाबाद, बैतूल, हरदा, सीहोर, राजगढ़, रायसेन, विदिशा, श्योपुर, अशोकनगर, गुना, दतिया, शिवपुरी, ग्वालियर, सागर, दमोह, छिंदवाड़ा, सिवनी, नरसिंहपुर, उज्जैन, देवास, धार, खरगोन, रतलाम और झाबुआ जिले में कुछ स्थानों पर भारी और कुछ स्थानों पर कहीं-कहीं अति वर्षा की आशंका है। राजधानी भोपाल और इसके आसपास कई स्थानों पर रुक-रुक कर हल्की बारिश हुई। आसमान में बादल छाये रहे।