फिर विश्व गुरु बनेगा भारत पावन रामरेखा धाम में डॉ. भागवत ने कहा
    Date31-Jul-2019

सिमडेगा द्य 31 जुलाई (वा)
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प.पू. सरसंघचालक डॉ.मोहनराव भागवत ने बुधवार को झारखंड के सिमडेगा में कहा कि भारत एक दिन फिर विश्व गुरु बनेगा। वे रामरेखा धाम के बाबा उमाकांत दासजी महाराज के निमंत्रण पर बुधवार को यहां एक धार्मिक आयोजन में शामिल होने पहुंचे थे। इस मौके पर डॉ. भागवत ने कहा कि निष्ठा, समर्पण, मेहनत और सेवाभावना ही हमारी ताकत रही है। समाज में सभी लोगों को जोड़ते हुए सक्रिय होकर काम करें।
डॉ. भागवत ने बुधवार को पावन रामरेखा धाम में दर्शन-पूजन के बाद अपने अभिनंदन कार्यक्रम में कहा कि पहले यूरोप व इसके बाद ऑस्ट्रेलिया को बदलने के बाद अंग्रेजों की नजर एशिया पर थी, लेकिन वह यहां भारत को नहीं बदल पाए। यही भारत की विशेषता है। इससे पहले, भागवत ने सिमडेगा के पावन रामरेखा धाम में पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर उन्होंने धाम परिसर में आयोजित अभिनंदन समारोह में कहा कि वे रामरेखा धाम की महिमा के बारे में पहले भी सुनते रहे हैं, लेकिन यहां आने का सौभाग्य उन्हें आज प्राप्त हुआ। उन्होंने धाम विकास समिति, हिंदू धर्म रक्षा समिति और विहिप के पदाधिकारियों को संबोधित किया। भागवत ने सभी से कहा कि वे नि:स्वार्थ भाव से अपना काम करते रहें। बता दें कि रामरेखा धाम के महंत उमाकांतजी ने कुछ माह पूर्व रांची में मुलाकात कर डॉ. भागवत को रामरेखा धाम में आने का निमंत्रण दिया था। अब रामरेखा धाम को राज्य सरकार ने राज्यस्तरीय धार्मिक पर्यटन स्थल का दर्जा देते हुए उसके विकास कार्य का जिम्मा लिया है।