भोपाल में २०१४ के बाद फिर पारा 45.3 डिग्री पर
   Date04-Jun-2019
भोपाल द्य 3 जून (वा)
प्रचंड गर्मी और भट्टी की तरह लू की लपटों से झुलस रही मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज तापमान 45़ 3 डिग्री रिकार्ड हुआ जो इस सीजन (साल) में अब तक का सर्वाधिक तापमान है।इतना ही तापमान यहां वर्ष 2014 में जून के पहले सप्ताह में दर्ज हुआ था।
स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने यह जानकारी दी। यहां कल की तुलना में तापमान 1़ 5 डिग्री बढ़कर 45़ 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है जो सामान्य से करीब पांच (4़ 8) डिग्री ज्यादा है। रात का भी सामान्य से चार डिग्री अधिक 30़ 5 रहा है। 47 डिग्री के साथ सागर, दमोह और रायसेन प्रदेश के सबसे गर्म शहर रहे। श्योपुर में भी करीब इतना हीं 46़ 9 डिग्री तापमान अंकित हुआ है।इसके अलावा गुना में 46़ 6, राजगढ़ 45़ 8, जबलपुर 45़ 6, शाजापुर और मंडला 45़ 4, खजुराहो 45़ 2, उमरिया, 45़ 1, नौगांव, सीधी और उज्जैन 45, टीकमगढ़ 44़ 7, खरगोन और ग्वालियर 44़ 6, बैतूल 44़ 5, शिवपुरी 44, खंडवा और होशंगाबाद 43़ 5 और इंदौर में 43 डिग्री तापमान दर्ज हुआ है।श्री शुक्ला ने बताया कि अगले दो तीन दिन तक प्रदेश को भीषण गर्मी और लू से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है, अलबता कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी हो सकती है। मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी करते हुए गुना, दतिया, छतरपुर, सागर, दमोह, रायसेन, राजगढ़, श्योपुर, भिंड और मुरैना में तीव्र लू चलने की चेतावनी दी है।
इसके साथ ही रीवा, मंडला, सीधी, सिंगरौली, उमरिया, शहडोल, बालाघाट, अशोकनगर, टीकमगढ़, विदिशा, शाजापुर, रतलाम, ग्वालियर, जबलपुर और होशंगाबाद जिले में भी लू चलने की संभावना हैं। इस दौरान कहीं-कहीं धूल भरी आंधी चलने के साथ गरज चमक की स्थिति बन सकती है।भोपाल में भी तापमान के करीब 45 डिग्री रहने तथा शाम के समय तेज हवाओं के साथ हल्की वर्षा का अनुमान है। इस दौरान हवा की गति 24 किलोमीटर प्रति घंटा रह सकती है।