आस्ट्रेलिया से हार के बाद मोर्गन का दबाव से इंकार
   Date26-Jun-2019
 

 
लंदन,  क्रिकेट के जन्मदाता इंग्लैंड को पहले आईसीसी एकदिवसीय विश्वकप का खिताब दिलाने के लिये संघर्ष कर रही मेज़बान इंग्लैंड टीम के कप्तान इयोन मोर्गन ने चिर प्रतिद्वंद्वी आस्ट्रेलिया से हार के बाद किसी तरह के दबाव से इंकार किया है।
इंग्लैंड को विश्वकप से पूर्व खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा था लेकिन टूर्नामेंट में उसके मौजूदा प्रदर्शन को देखते हुये साफ है कि फिलहाल उसका सेमीफाइनल में स्थान पक्का करना भी आसान नहीं है। एशेज़ की प्रतिद्वंद्वी आस्ट्रेलिया ने मंगलवार को लार्ड्स में 64 रन से मैच जीतने के बाद अंतिम चार में जगह पक्की कर ली है जिसके बाद इंग्लैंड को आलोचना झेलनी पड़ रही है। इंग्लिश कप्तान ने हालांकि मैच के बाद कहा कि उनकी टीम पर कोई दबाव नहीं है और अपना भाग्य अपने हाथ होता है इसलिये टीम आगे बेहतर प्रदर्शन का प्रयास करेगी। उन्होंने कहा,हम आखिरी दोनों मैच जीतकर सेमीफाइनल में जगह बना सकते हैं। इंग्लैंड को हालांकि अगला मैच न्यूजीलैंड से खेलना है जिसका टूर्नामेंट में अभियान शानदार चल रहा है।
मोर्गन ने कहा, मैंने कई बार इस बारे में सोचा कि हम कैसे हारे, हमने गेंदबाजी अच्छी की लेकिन मैच में थोड़ा दुर्भाग्य रहा। विकेट काफी चुनौतीपूर्ण थी। शुरूआत में विकेट गंवाना अच्छा नहीं रहा और हम बड़े स्कोर के लिये मजबूत साझेदारी भी नहीं बना सके। इंग्लैंड को लक्ष्य का पीछा करने में असफलता झेलनी पड़ी है लेकिन मोर्गन ने टॉस जीतने के बाद पहले क्षेत्ररक्षण के अपने फैसले का समर्थन करते हुये कहा, विकेट काफी ढीला था