22 राज्यों में मानसून की दस्तक, सात राज्यों को अभी भी इंतजार
   Date23-Jun-2019

देरी से चल रहा मानसून सक्रिय हुआ है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में वाराणसी और बहराइच तक मानसून ने दस्तक दे दी है। अब तक मानसून 22 राज्यों में एवं पांच केंद्र शासित प्रदेशों में पूर्ण या आंशिक रूप से सक्रिय हो चुका है। जबकि सात राज्यों एवं दो केंद्र शासित प्रदेशों में मानसून के अगले दो सप्ताह के भीतर सक्रिय होने के आसार हैं।
मौसम विभाग के महानिदेशक डॉ. केजे रमेश ने कहा कि पूर्वी उत्तर प्रदेश में मानसून अगले चौबीस घंटों के दौरान कुछ और इलाकों में सक्रिय होगा। जबकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश और दिल्ली पहुंचने में अभी समय लग सकता है। इसी प्रकार मध्य प्रदेश में भी सिर्फ पूर्वी हिस्से में अभी मानसून पहुंच पाया है। पश्चिम हिस्सा अभी छूटा हुआ है। महाराष्ट्र में मध्य हिस्से और मराठवाड़ा में ही मानसून पहुंचा है। लेकिन आने वाले दिनों में इन राज्यों में मानसून की सक्रियता बढ़ेगी। पूर्वोत्तर के आठों राज्यों में मानसून सक्रिय है।


इन राज्यों को इंतजार -जिन सात राज्यों में अभी मानसून नहीं पहुंचा है, उनमें गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश हैं। दो केंद्र शासित राज्यों दिल्ली और चंडीगढ़ में भी मानसून की दस्तक होनी अभी बाकी है। जुलाई के पहले सप्ताह में इन राज्यों में बारिश होगी।

38 फीसदी कम बारिश- इस बीच, कई राज्यों में मानसून की दस्तक से कम बारिश के आंकड़ों में कमी आई है। हफ्ते के शुरू में बारिश की कमी 43 फीसदी थी जो रविवार को घटकर 38 फीसदी रह गई। लेकिन मध्य भारत में अभी भी कमी 43 फीसदी तक बनी हुई जबकि उत्तर पश्चिमी राज्यों में कमी अब सिर्फ 20 फीसदी रह गई है। देश के 36 मौसम संभागों में से 21 में बारिश कम हुई है। इनमें दो संभाग ऐसे भी हैं जहां कोई बारिश नहीं हुई है।