'किसान समृद्ध तो देश समृद्धÓ की अवधारणा से काम करेेंगे
   Date02-Jun-2019
नई दिल्ली द्य 1 जून (वा)
कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने शनिवार को कहा कि अगले पांच साल के दौरान किसानों की आय दोगुनी करने के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे ।
श्री तोमर ने यहां कृषि मंत्रालय का कार्यभार ग्रहण करने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि वह 'किसान समृद्ध तो देश समृद्धÓ की अवधारणा से काम करेेंगे तथा फसलों की उत्पादकता बढ़ाने के लिए आधुनिक कृषि तकनीक का अधिक से अधिक उपयोग करने पर जोर देंगे। उनके साथ ही कृषि राज्यमंत्री पुरुषोत्तम रूपाला और कैलाश चौधरी ने भी आज ही अपना कार्यभार संभाल लिया। उन्होंने कहा कि पिछले पांच साल के दौरान कृषि उत्पादन बढ़ाने के लिए अनेक कदम उठाये गए हैं, जिससे किसानों को समय पर उर्वरक, बीज और कृषि से संबंधित अन्य सामान मिल रहे हैं। किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर फसलों की खरीद की जा रही है, इनाम योजना के तहत बाजार उपलब्ध कराए जा रहे हैं तथा मृदा स्वास्थ्य कार्ड के माध्यम से जमीन की गुणवत्ता की जानकारी हासिल की जा रही है। इसके साथ ही सिंचाई सुविधा के विस्तार की योजनाओं को तेजी से पूरा करने के प्रयास किए जा रहे हैं। श्री तोमर ने कहा कि कृषि से संबंधित योजनाओं की पहुंच हर किसान तक हो, इसके उपाय किए जाएंगे। जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहन योजना शुरु की जाएगी। पहाड़ी क्षेत्रों में जैविक खेती की जा रही है।श्री तोमर ने किसान पेंशन योजना की चर्चा करते हुए कहा कि कठोर परिश्रम करने वाले किसान 60 वर्ष की उम्र के बाद शारीरिक रूप से कमजोर हो जाते हैं और उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। पेंशन योजना से किसानों को आर्थिक मदद मिल सकेगी और उन्हें सामाजिक सुरक्षा उपलब्ध होगी। कृषि मंत्री ने कार्यभार संभालने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें उन्हें विभागीय संरचना, अधिकारियों की स्थिति, कृषि क्षेत्र की जानकारी, फसलों के उत्पादन, फसलों खरीद प्रक्रिया, बाजार की स्थिति, बागवानी फसलों, कृषि विश्वविद्यालयों, कृषि विज्ञान केन्द्रों, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद् की जानकारी दी गई।