एएन-32 विमान - खराब मौसम के कारण बचाव अभियान में बाधा
   Date15-Jun-2019

नई दिल्ली 15 जून (वा) अरुणाचलप्रदेश के बेहद दुर्गम क्षेत्र में 12 दिन पहले दुर्घटनाग्रस्त हुए वायुसेना के विमान में सवार 13 वायुसैनिकों के पार्थिव शरीर निकालने के अभियान में लगे हेलिकॉप्टर आज उड़ान नहीं भर पाए और खराब मौसम के चलते इसमें बाधा आई।
वायुसेना के प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि वायुसेना, सेना की स्पेशल फोर्स और स्थानीय लोगों की 17 सदस्यीय टीम दुर्घटनास्थल पर मौजूद हैं, लेकिन मूसलधार बारिश और घने बादलों के कारण हेलिकॉप्टर उड़ान नहीं भर पा रहे हैं। खराब मौसम के कारण बचाव अभियान को रोकना पड़ा है। वायुसेना के अनुसार इस तरह की परिस्थितियों में हेलिकॉप्टर उड़ाने में बेहद अधिक सतर्कता और कौशल की जरूरत होती है। विशेष रूप से पर्वतीय क्षेत्र में ढलान तथा ऊंचाई पर सावधानी बरतना जरूरी होता है। इस तरह के बचाव अभियान में हेलिकॉप्टर द्वारा दुर्घटनास्थल पर चक्कर लगाना अनिवार्य होता है, लेकिन यह संभव नहीं हो पा रहा है। दुर्घटना में मारे गए वायु सैनिकों के पार्थिव शरीर बाहर निकालने तथा जोरहाट बेस ले जाने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं। बचावकर्मी मौके पर बने हुए हैं और मौसम में सुधार होते ही अभियान शुरू किया जाएगा।