अब कमलनाथ ने कर्ज माफी को लेकर शिवराज को लिखा पत्र
   Date23-May-2019
भोपाल द्य 22 मई (वा)
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कर्जमाफी के मुद्दे पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पत्र लिखकर कहा है कि आचार संहिता खत्म होते ही राज्य सरकार शेष किसानों के कर्ज माफ करेगी।
श्री कमलनाथ ने इसके साथ ही श्री चौहान से जानना चाहा है कि क्या वे लोकसभा चुनाव समाप्त होने के बाद उनसे उम्मीद कर सकते हैं कि वे कर्जमाफी की सच्चाई स्वीकार करेंगे।
श्री कमलनाथ की ओर से कल लिखे गए इस पत्र में उन्होंने श्री चौहान को संबोधित करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री का पद ग्रहण करते ही उन्होंने 17 दिसंबर को कर्जमाफी के आदेश जारी कर प्रक्रिया शुरू की। 22 फरवरी से कर्जमाफी के प्रमाण-पत्र वितरित करना शुरू कर 10 मार्च को आचार संहिता लगने तक करीब 21 लाख किसानों के कर्ज माफ किए। आचार संहिता समाप्त होते ही कर्जमाफी की प्रक्रिया फिर शुरू कर कांग्रेस अपने वचन-पत्र में दिए वचन को पूरा करेगी। उन्होंने आरोप लगाया है कि श्री चौहान ने आम चुनावों को देखते हुए कर्जमाफी को लेकर किसानों को लगातार गुमराह और भ्रमित करते हुए दुष्प्रचार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कर्जमाफी के सच्चे प्रयासों को झुठलाने की श्री चौहान ने तमाम कोशिशें कीं, लेकिन कांग्रेस सरकार ने प्रदेश की आर्थिक स्थिति डांवाडोल होने के बावजूद आचार संहिता के पहले करीब 21 लाख किसानों के दो लाख रुपए के कर्ज माफ किए।
उन्होंने कहा कि ये एक सच्चाई है, जिसे श्री चौहान ने राजनीतिक कारणों से सार्वजनिक तौर पर स्वीकार नहीं किया।