सामान्य परिवार से निकले लोग आज हैं राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री- मोदी
   Date14-Apr-2019

अलीगढ़ 14 अप्रैल (वा) विपक्ष पर जातिगत राजनीति करने का आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव आंबेडकर के आशीर्वाद से सामान्य परिवार से निकले लोग आज देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री है।
चिलचिलाती धूप के बीच नुमाइश मैदान में रविवार को आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा कि देश को जाति की स्वार्थ भरी राजनीति की नहीं बल्कि विकास की दरकार है। देश में सबका साथ सबका विकास होना चाहिए। आम्बेडकर जयन्ती पर बाबा साहब को याद करते हुए कहा कि उनके आशीर्वाद से सामान्य परिवारों से निकल कर लोग अब देश के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति पद पर है। चायवाला देश का प्रधानमंत्री है जो बाबा साहब के बताए रास्ते पर चलने के लिए ये चौकीदार दिन-रात मेहनत कर रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के चुनावी नतीजे विरोधी दलों को अलीगढ़ के ताले खरीदने पर मजबूर कर देंगे। पहले चरण के चुनाव के बाद इन लोगों का टिकना मुश्किल हो गया है। उन्हें असलीयत पता चल गई है। ये लोग पराजय के कगार पर खड़े है। उज्जवला योजना का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने कहा कि इससे सभी को फायदा मिला है, सभी को बिजली मिली, दवा मिली,आयुष्मान भारत योजना के तहत पांच लाख रुपए का मुफ्त इलाज हर एक को मिल रहा है। हमने बाबा सहाब के बताए रास्ते पर तो काम किया है। उनको देश के इतिहास में सम्मान भी दिया है जिसके वे हकदार थे। बाबा साहब के नाम से पंचशील विकसित किया है। बाबा साहाब ने जो किया है हमें नही भूलना चाहिए। वे महान अर्थशास्त्री,कानूूनविद् लेखक थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस बाबा सहाब को कभी बर्दाश्त नहीं कर पाई। जब पश्चिमी उत्तर प्रदेश जल रहा था, मासूम मारे जा रहे थे ,तब उन्हें अनसुना करने वाला कौन था। श्री मोदी ने मौजूद जनसमुदाय से अपने चिरपरिचित अंदाज में पूछा आप बताइए आंतकवाद हटना चाहिए या नहीं। पाकिस्तान में घुसकर मारना चाहिए या नहीं। सर्जिकल स्ट्राइक होनी चाहिए या नहीं। विरोधी कहते है मोदी को हटना चाहिए। मोदी कभी अपना नहीं सोचता मोदी केवल देश की सोचता है, मोदी मिशन का आतंकवाद,गरीबी, बीमारी, को हटाना है। भ्रष्टाचार हटाना है। पांच वर्ष के विकास का इतिहास और आने वाले पांच वर्ष में विकास की नई आस। इसके लिए आशीर्वाद की जरूरत है।