मप्र में भी सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
   Date09-Nov-2019

भोपाल द्य अयोध्या मामले को लेकर उच्चतम न्यायालय के फैसले के शीघ्र आने की संभावना के बीच मध्यप्रदेश पुलिस ने शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए आज कहा कि इसके लिए सभी पुख्ता प्रबंध कर लिए गए हैं। प्रदेश पुलिस एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज यहां बताया कि राजधानी भोपाल समेत 52 जिलों में सुरक्षा संबंधी एहतियातन पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। अतिसंवेदनशील और संवेदनशील क्षेत्रों की पहचान करने के साथ ही ऐसे लोगों को भी चिन्हित किया गया है, जो गड़बड़ी कर सकते हैं। ऐसे लोगों पर निगरानी जा रही है। अधिकारी के अनुसार सभी जिलो में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी गई। सोशल मीडिया पर भी विशेष निगरानी रखी जा रही है।
सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक संदेश या चित्र आदि पोस्ट करने पर पूरी तरह रोक लगाई गई है। यदि कोई व्यक्ति ऐसा करते हुए पाया गया, तो उसके खिलाफ तत्काल सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। धरना और प्रदर्शन आदि पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। अब लोग भीड़ और समूह के रूप में भी एकत्रित नहीं हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस प्रशासन के मैदानी अमले के साथ ही खुफिया तंत्र को और अधिक सजग एवं सतर्क रहने के लिए कहा गया है। प्रदेश पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी पूरे राज्य में स्थिति पर लगातार नजर रखे हुए हैं। इसके अलावा भोपाल और इंदौर के उपमहानिरीक्षकों के साथ ही सभी जिलों के पुलिस अधीक्षकों को भी इस संबंध में व्यापक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। अधिकारी के अनुसार होटल, लॉज, धर्मशालाओं, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और अन्य सार्वजनिक स्थानों पर विशेष चौकसी और तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। वाहनों की तलाशी आदि के भी निर्देश दिए गए हैं।