सात्विकसैराज-चिराग क्वार्टर में, प्रणीत-कश्यप बाहर
   Date07-Nov-2019

फुझू, 07 नवंबर (वार्ता) फ्रेंच ओपन की उपविजेता भारतीय जोड़ी सात्विकसैराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी ने इस सत्र में अपना शानदार सफर जारी रखते हुये छठी सीड जापानी जोड़ी हिरोयूकी एंडो और यूता वतान्वे को गुरूवार को 21-18, 21-23, 21-11 से हराकर चाइना ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया।
सात्विकसैराज-चिराग अब टूर्नामेंट में एकमात्र भारतीय उम्मीद बचे रह गये हैं जबकि अन्य सभी खिलाड़ी बाहर हो गये हैं। विश्व चैंपियन पीवी सिंधू और सायना नेहवाल पहले दौर में बाहर हो गये थे जबकि परूपल्ली कश्यप और बी साई प्रणीत दूसरे राउंड में बाहर हो गये। फ्रेंच ओपन में उपविजेता रही सात्विकसैराज-चिराग की जोड़ी ने छठी सीड जापानी जोड़ी को हराने में एक घंटे छह मिनट का समय लगाया। निर्णायक गेम में भारतीय जोड़ी पूरी तरह खेल पर हावी रही। विश्व रैंकिंग में नौवें नंबर की भारतीय जोड़ी ने इस जीत के साथ जापानी जोड़ी के खिलाफ करियर रिकार्ड 2-2 कर लिया है। सात्विकसैराज-चिराग का क्वार्टरफाइनल में तीसरी वरीयता प्राप्त चीन की जोड़ी ली जुन हुई और लियू यू चेन से मुकाबला होगा जिनके खिलाफ उनका 1-1 का रिकार्ड है।
कश्यप को दूसरे राउंड में सातवीं वरीय डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन के हाथों 13-21, 19-21 से शिकस्त झेलनी पड़ी। अन्य एकल खिलाड़ी प्रणीत की चुनौती चौथी वरीय डेनमार्क के आंद्रेस एंटनसन ने तोड़ी जिन्होंने भारतीय खिलाड़ी को तीन गेमों में 22-20, 20-22, 21-16 से पराजित किया।पुरूष एकल खिलाड़ी कश्यप और प्रणीत ने पहले दौर में जीत के साथ खाता खोला था लेकिन दूसरे दौर में ही उनकी चुनौती टूट गयी। इससे पहले ओलंपिक पदक विजेता महिला एकल खिलाड़ी पीवी सिंधू और सायना नेहवाल पहले ही दौर में हारकर बाहर हो गयी थीं। 11वीं रैंकिंग के प्रणीत ने मैच में एक घंटे 24 मिनट तक संघर्ष किया लेकिन पांचवीं रैंक एंटनसन से पार नहीं पा सके जिनका प्रणीत के खिलाफ 2-1 का रिकार्ड हो गया है। इस वर्ष कोरिया ओपन में बढ़त के बावजूद चोट के कारण एंटनसन प्रणीत के खिलाफ रिटायर्ड हर्ट होकर मैच से बाहर हो गये थे। वहीं 25वीं रैंक कश्यप से एक्सेलसन ने इस जीत के साथ अब करियर में 2-2 की बराबरी हासिल कर ली है। मिश्रित युगल के दूसरे दौर में भी भारत को सात्विकसेराज रैंकीरेड्डी और अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने निराश किया जिन्हें पांचवीं रैंक कोरिया की सियो सियुंग जाए तथा चाए युजुंग की जोड़ी ने 40 मिनट में 23-21, 21-16 से हराया।