आपदा पीडि़त किसानों को मुआवजा देने को लेकर भाजपा ने किया प्रदर्शन
   Date05-Nov-2019

भोपाल द्य 4 नवम्बर (वा)
मध्यप्रदेश में किसानों की कर्जमाफी, प्राकृतिक आपदा से पीडि़त किसानों को मुआवजा देने और बिजली बिल संबंधी मामलों को लेकर आज मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने राज्य की कमल नाथ सरकार के खिलाफ राजधानी भोपाल समेत विभिन्न जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया।
भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने विभिन्न जिलों में किसान आक्रोश आंदोलन के तहत प्रदर्शन का नेतृत्व किया और राज्य सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाते हुए जमकर हमले बोले। प्रदर्शन का नेतृत्व भोपाल में विधानसभा में विपक्ष के नेता गोपाल भार्गव ने किया, जबकि प्रदेश अध्यक्ष राकेशसिंह ने नरसिंहपुर में और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान रीवा में आंदोलन का नेतृत्व किया। विभिन्न जिला मुख्यालयों से यहां पहुंची खबरों के अनुसार भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार ने किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया है और इस वजह से किसान आत्महत्या तक के लिए मजबूर हो रहे हैं। किसानों को अतिवृष्टि और बाढ़ के कारण हुए नुकसान का मुआवजा तक मुहैया नहीं कराया गया है। इसी तरह बिजली के बढ़े हुए बिल दिए जा रहे हैं, जबकि कांग्रेस ने बिजली के बिल हॉफ करने का वचन दिया था।
आंदोलन के मद्देनजर पुलिस के सख्त सुरक्षा प्रबंधों के बीच यह शांतिपूर्ण ढंग से निपट गया। प्रदेश भाजपा की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार नरसिंहपुर में प्रदेश अध्यक्ष श्री सिंह के नेतृत्व में हजारों किसान ट्रैक्टर ट्रालियों में सवार होकर एक रैली में रूप में कलेक्टर कार्यालय पहुंचे। इस दौरान किसानों, गरीबों को दिए गए बढ़े हुए बिजली के बिलों की होली भी जलाई गई। श्री सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य की दस माह पुरानी कांग्रेस सरकार अपने वचन पूरे नहीं कर पा रही है। इसके अलावा भोपाल में विपक्ष के नेता गोपाल भार्गव, उज्जैन में वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय, इंदौर में श्रीमती सुमित्रा महाजन, होशंगाबाद में वरिष्ठ नेता प्रभात झा और जबलपुर में सांसद नंदकुमारसिंह चौहान के नेतृत्व में आंदोलन किया गया। पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता भी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत जिलों में पहुंचे और आंदोलन का नेतृत्व किया।