नासा ने पूरी की शनि के चंद्रमा की पहली 'ग्लोबल जियोलॉजिक मैपिंगÓ
   Date20-Nov-2019

लॉस एंजिल्स द्य 19 नवम्बर
अमेरिकी नासा ने शनि ग्रह के सबसे बड़े चंद्रमा 'टाइटनÓ की पहली 'ग्लोबल जियोलॉजिकल मैपिंगÓ पूरी कर ली है। नासा की जेट प्रोप्लसन जेट लेबोरेटरी ने यहां यह जानकारी दी है।
लेेबोरेटरी के मुताबिक इस नक्शे में रेत के टीले, झीलें, मैदानी क्षेत्रों के अलावा ज्वालामुखी के क्रेटर और अन्य दुर्गम स्थान शामिल हैं। हमारे सौर परिवार में पृथ्वी के अलावा टाइटन ही एक ऐसा खगोलीय वस्तु है, जिसकी सतह पर तरल पदार्थ है, लेकिन यहां पर बादलों से पानी नहीं बरसता है और पृथ्वी पर समुद्रों तथा नदियों को बरसात के मौसम मे जो पानी मिलता है, उसके स्थान पर टाइटन में मीथेन तथा ईथेन की बारिश होती है और ये टाइटन के अति ठंडे माहौल में तरल पदार्थ की तरह प्रतीत होते हैं। जेपीएल ने कहा कि टाइटन पर मीथेन आधारित सक्रिय जल चक्र है, जिसने उसके भौगोलिक परिदृश्य को काफी जटिल बना दिया है।