एल्गर और डी कॉक के शतकों पर भारी पड़ा अश्विन का पंजा
   Date05-Oct-2019

विशाखापत्तनम ठ्ठ 04 अक्टूबर (वार्ता)
ओपनर डीन एल्गर (160) और विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक (111) के शानदार शतकों तथा उनके बीच छठे विकेट के लिए 164 की बेहतरीन साझेदारी की बदौलत दक्षिण अफ्रीका ने भारत के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन शुक्रवार को अपनी पहली पारी में आठ विकेट पर 385 रन बना लिए लेकिन अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 128 रन पर पांच विकेट लेकर टीम इंडिया को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया।
भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट पर 502 रन का पहाडऩुमा स्कोर बनाकर घोषित की थी। दक्षिण अफ्रीका अभी भारत के स्कोर से 117 रन पीछे है जबकि उसके दो विकेट बाकी हैं। अश्विन ने कल दो विकेट लिए थे और आज उन्होंने तीन विकेट लेकर करियर में 27वीं बार पारी में पांच विकेट पूरे किये। दक्षिण अफ्रीका ने तीन विकेट पर 39 रन से आगे खेलना शुरू किया था। ओपनर डीन एल्गर ने 27 और तेम्बा बावुमा ने दो रन से अपनी पारी को आगे बढ़ाया। एल्गर ने 287 गेंदों पर 18 चौकों और चार छक्कों की मदद से 160 रन बनाये और भारतीय गेंदबाजों को हावी होने से रोके रखा। विकेटकीपर डी कॉक ने भी शानदार बल्लेबाजी की और 163 गेंदों पर 16 चौकों और दो छक्कों के सहारे 111 रन बनाये। कप्तान फाफ दू प्लेसिस ने 103 गेंदों में आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 55 रन का योगदान दिया। मेहमान टीम की पारी में गिरे आठ विकेटों में सात विकेट भारतीय स्पिनरों के हिस्से में गए। ऑफ स्पिनर अश्विन ने 41 ओवर में 128 रन पर पांच विकेट और लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा ने 37 ओवर में 116 रन पर दो विकेट लिए। तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने 14 ओवर में 44 रन पर एक विकेट लिया।
32 वर्षीय एल्गर ने अपने करियर का 12वां शतक बनाया जबकि 26 वर्षीय डी कॉक ने अपना पांचवां शतक बनाया। एल्गर ने जडेजा की गेंद पर चेतेश्वर पुजारा को कैच दिया। डी कॉक को अश्विन ने बोल्ड कर दिया। एल्गर ने भारत के खिलाफ पहला शतक लगाया। उन्होंने डी कॉक के साथ छठे विकेट के लिए 164 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी की। एल्गर ने 287 गेंदों की पारी में 18 चौके और 4 छक्के लगाए। कप्तान डू प्लेसिस ने अपना 20वां अर्धशतक बनाया। वह 55 रन बनाकर आउट हुए। एल्गर और डू प्लेसिस ने पांचवें विकेट के लिए 115 रन की साझेदारी की। तेम्बा बावुमा ने 18 रन बनाये। बावुमा को इशांत शर्मा ने पगबाधा आउट किया। स्टंप्स के समय सेनूरान मुथुसामी 12 और केशव महाराज तीन रन बनाकर क्रीज पर थे।
अश्विन ने कल एडन मारक्रम और थ्यूनिस डी ब्रुन के विकेट लिए थे और आज उन्होंने डू प्लेसिस, डी कॉक और वेर्नोन फिलेंडर को आउट किया जबकि जडेजा ने एल्गर का कीमती विकेट लिया। जडेजा ने एल्गर को आउट कर टेस्ट में 200 विकेट पूरे कर लिए। वह सबसे कम टेस्ट में इस आंकड़े तक पहुंचने वाले बाएं हाथ के गेंदबाज बने हैं। उन्होंने 44 टेस्ट में 200 विकेट पूरे किए। श्रीलंका के रंगना हेराथ ने 47 टेस्ट में इस आंकड़े को छुआ था। भारत के लीजेंड लेफ्ट आर्म स्पिनर बिशन सिंह बेदी ने 200 विकेट के लिए 51 टेस्ट खेले थे।